पीएम मोदी ने नये कृषि कानून को लेकर विपक्ष पर कसा तंज, बोले-विपक्ष के लोग किसानों को भ्रम फैलाने और बाटने का काम कर रही है, कांग्रेस ने किया वॉकआउट

Spread the news

नई दिल्ली: लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कांग्रेस पार्टी और विपक्ष पर जमकर हमला बोला. पीएम ने कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन और राजनीति पर जवाब देना शुरू किया तो विपक्ष की ओर से टोका-टोकी शुरू हो गई. पीएम मोदी ने कहा कि ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि जो झूठ इन्होंने बाहर फैलाई है उसकी सच्चाई लोगों तक ना पहुंच जाए. कृषि कानूनों की वापसी की मांग को लेकर नारा लगाते हुए कांग्रेस के सासंद वॉकआउट कर गए. इस दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस को भ्रम फैलाने और बटवारे वाला दल बता दिया. पीएम मोदी ने कहा, ”कांग्रेस देश की सबसे पुरानी पार्टी है. करीब छह दशक तक देश में इसने शासन किया. इस पार्टी का यह हाल हो गया है कि पार्टी का राज्यसभा का तबका एक तरफ चलता है और लोकसभा का तबका दूसरी तरफ, ऐसी डिवाइडेट और कन्फ्यूज पार्टी ना खुद का भला कर सकती है ना ही देश का भला सोच सकती है. इससे बड़ा दुर्भाग्य क्या हो सकता है. कांग्रेस पार्टी राज्यसभा में भी है वह उत्साह के साथ वाद-विवाद करते हैं, और कांग्रेस पार्टी का यह दूसरा तबका… अब समय तय करेगा.” गौरतलब है कि राज्यसभा में कांग्रेस के कई ऐसे सदस्य हैं जो अभी पार्टी नेतृत्व से नाराज बताए जाते हैं. पीएम मोदी जब राज्यसभा में बोले तो पार्टी के किसी नेता ने टोकाटाकी नहीं की थी. पीएम मोदी ने विपक्ष की ओर से टोकाटाकी और शोर-शराबे को लेकर कहा, ”संसद में ये हो-हल्ला, ये आवाज, ये रुकावटें डालने का प्रयास, एक सोची समझी रणनीति के तहत हो रहा है. रणनीति ये है कि जो झूठ, अफवाहें फैलाई गई हैं, उसका पर्दाफाश हो जाएगा. इसलिए हो-हल्ला मचाने का खेल चल रहा है.”
पीएम मोदी ने कृषि कानूनों पर शंकाओं को दूर करते हुए कहा, ”कानून लागू होने के बाद न देश में कोई मंडी बंद हुई, न एमएसपी बंद हुआ. ये सच्चाई है. इतना ही नहीं ये कानून बनने के बाद एमएसपी की खरीद भी बढ़ी है.” पीएम ने कृषि कानूनों में बदलाव के लिए सरकार को तैयार बताते हुए कहा, ”हम मानते हैं कि इसमें सही में कोई कमी हो, किसानों का कोई नुकसान हो, तो बदलाव करने में क्या जाता है. ये देश देशवासियों का है. हम किसानों के लिए निर्णय करते हैं, अगर कोई ऐसी बात बताते हैं जो उचित हो, तो हमें कोई संकोच नहीं होगा.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *