प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा- गैर गांधी ही बनना चाहिए कांग्रेस अध्‍यक्ष

Spread the news

नई दिल्‍ली: कांग्रेस पार्टी की बागडोर संभालने को लेकर एक बार फिर पार्टी में आवाज उठना शुरू हो गया है. राहुल गांधी पहले ही कह चुके है कि गैर-गांधी कांग्रेस का अध्यक्ष हो सकता है. अब इस बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपने भाई और पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी के फैसले का समर्थन किया है. प्रियंका गांधी ने कहा, ‘शायद (इस्तीफा) पत्र में नहीं, लेकिन कहीं और उन्होंने (राहुल ने) कहा है कि हममें से किसी को भी पार्टी का अध्यक्ष नहीं होना चाहिए और मैं उनसे पूर्ण रूप से सहमत हूं. मुझे लगता है कि पार्टी को अपना रास्ता खुद भी खोजना चाहिए.’ उन्होंने यह बयान इंडिया टुमॉरो: कंवर्जेशन्स विद द नेक्स्ट जनरेशन ऑफ पॉलिटिकल लीडर्स नामक किताब में छपे एक इंटरव्‍यू में दिया है. इस किताब को प्रदीप चिब्बर और हर्ष शाह ने लिखा है. प्रियंका गांधी वाड्रा ने यह भी कहा कि वह एक गैर-गांधी को ‘बॉस’ के रूप में जरूर स्वीकार करेंगी. उन्होंने कहा, ‘अगर वह (पार्टी अध्यक्ष) कल मुझसे कहते हैं कि वह मुझे उत्तर प्रदेश में नहीं चाहते हैं, वह मुझे अंडमान और निकोबार में चाहते हैं तो मैं खुशी-खुशी अंडमान और निकोबार जाऊंगी.’ आपको बता दें कि 2019 के लोकसभा चुनावों में कांग्रेस को करारी हार के बाद राहुल गांधी ने पार्टी का अध्यक्ष पद छोड़ दिया था. सोनिया गांधी ने पिछले साल 10 अगस्त को अंतरिम अध्‍यक्ष का पद संभाला था. हाल ही में, कांग्रेस पार्टी ने कहा कि सोनिया गांधी तब तक अंतरिम अध्यक्ष बनी रहेंगी जब तक कि पार्टी प्रमुख का चुनाव करने के लिए “बहुत दूर के भविष्य में नहीं” एक “उचित प्रक्रिया” लागू हो जाती है. इस बीच, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और तिरुवनंतपुरम के सांसद शशि थरूर ने मीडिया से कहा था कि अगर राहुल गांधी कांग्रेस के नेतृत्व को फिर से संभालने के लिए तैयार नहीं हैं, तो पार्टी को अध्यक्ष पद के लिए चुनाव करना चाहिए और कांग्रेस कार्यसमिति के लिए भी चुनाव होना चाहिए. फिलहाल तो सोनिया गांधी अध्यक्ष का पद भार संभाल रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *